‘पा’ के 10 साल / फिल्म में एक्टिंग नहीं करना चाहते थे अभिषेक बच्चन, ओपन लेटर में पिता अमिताभ का आभार माना

बॉलीवुड डेस्क.  अमिताभ बच्चन, अभिषेक बच्चन और विद्या बालन स्टारर ‘पा’ की रिलीज को 10 साल हो गए हैं। आर. बाल्की के निर्देशन में बनी यह फोल्म 4 दिसंबर 2009 को रिलीज हुई थी। फिल्म की 10वीं सालगिरह पर अभिषेक ने इंस्टाग्राम पर एक नोट लिखा है। इसमें उन्होंने डायरेक्टर आर. बाल्की समेत फिल्म से जुड़े कई लोगों का शुक्रिया अदा किया है। पिता अमिताभ बच्चन का आभार विशेष रूप से माना, जिन्होंने उन पर भरोसा किया कि वे उनके पापा की भूमिका कर सकते हैं और फिल्म को प्रोड्यूस भी कर सकते हैं। 

यह है अभिषेक का पूरा लेटर

पा! 10 साल हो गए हैं। पहली फिल्म, जो मैंने प्रोड्यूस की थी। यह इस पागल दूरदर्शी के बिना संभव नहीं थी, जिसे आर. बाल्की कहते हैं। ज्यातादर लोग नहीं जानते कि मैं इस फिल्म में एक्टिंग नहीं करना चाहता था। क्योंकि अपनी भूमिका से आश्वस्त नहीं था। बाल्की और मैं एक ऐड शूट कर रहे थे। वे पूरा दिन मुझे मनाने की कोशिश करते रहे। कई घंटों की बहस के बाद आखिर मैंने उन्हें रोकने के लिए ‘हां’ कह दिया।  यह मजेदार और यादगार अनुभव बन गया। मुझे खुशी है कि उन्होंने मेरी क्षमताओं पर दृढ़ता से विश्वास रखा और लगातार मुझपर दबाव बनाते रहे। उनका मुझमें दृढ़ विश्वास और इस जर्नी के जरिए मुझे राह दिखाने की क्षमता कुछ ऐसी है, जिसका कर्ज मैं कभी नहीं चुका पाऊंगा और उन्हें पर्याप्त रूप से धन्यवाद नहीं दे पाऊंगा। मुझे इस फिल्म पर बेहद गर्व है।  इस फिल्म को विंग कमांडर रमेश पुलापका (हमारे सीईओ), सुनील मनचंदा (मेरे प्रोडक्शन पार्टनर) और रिलायंस एंटरटेनमेंट की मदद, मार्गदर्शन, सहयोग और विश्वास के बगैर प्रोड्यूस करना संभव नहीं था। वे सभी इस फिल्म की रीढ़ की हड्डी थे।  अमेजिंग क्रू मेंबर्स। ग्रेट पीसी सर और राजा सर के साथ शुरुआत। अनिल नायडू, सुनील बाबू, हमारी अमेजिंग मेकअप टीम, अमेजिंग एडी हितेंद्र घोष, कॉस्टयूम टीम और बाकी यूनिट।  मेरे ऑरो के लिए। मेरे पा (अमिताभ बच्चन)। पहले अपने पिता की भूमिका के लिए अपने बेटे में भरोसा करने के लिए और फिर एक अमिताभ बच्चन फिल्म को प्रोड्यूस करने की अनुमति देने के लिए।  विद्या (बालन), अरुंधती (नाग), परेश जी (रावल) और फिल्म की बाकी कास्ट को फ्लॉलेस और सपोर्टिव होने के लिए। मैं सभी का आभार मानता हूं (क्योंकि यकीनन मैंने आपके चेक्स पर हस्ताक्षर किए हैं)। और आखिर में फिल्म देखने और इसे सफल बनाने के लिए दर्शकों का आभार। हमेशा ऋणी रहूंगा।

प्रोजेरिया से पीड़ित 12 साल के बच्चे की कहानी थी ‘पा’

फिल्म की कहानी 12 साल के बच्चे ऑरो (अमिताभ बच्चन) के इर्द-गिर्द घूमती है, जो प्रोजेरिया से पीड़ित होने की वजह से 5 गुना बड़ा दिखता है। अभिषेक बच्चन ने ऑरो के पॉलिटिशियन पिता और विद्या बालन ने उनकी गायनोकॉलोजिस्ट मां का रोल किया था। 

admin

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *